ऋतिक ने कंगना से अफेयर विवाद पर 2 साल बाद 766 शब्दों में बताई पूरी कहानी

 

कंगना रनौत और रितिक रोशन का दो साल पुराना विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। जहा कंगना ने पिछले दिनों एक न्यूज़ चैनल के प्रोग्राम में रितिक पर जमकर निशाना साधा था वहीं रितिक ने अब एक खुला खत लिखा है। उन्होंने गुरुवार को फेसबुक पर 766 शब्दों का लेटर शेयर कर कंगना पर निशाना साधा है। इस लेटर के स्क्रीन शॉट उन्होंने ट्विटर पर भी शेयर किया।

आइये जानते हैं रितिक-कंगना विवाद में क्या लिखा-

-ऋतिक ने लिखा कि मैं क्रिएटिव वे चुनना ज्यादा पसंद करता हूँ। जो काम मुझे अपनी क्रिएटिविटी से दूर करें मैं उस काम से दूर रहना चाहता हूँ। फालतू के विवाद से दूर रहकर मैं अपनी सेल्फ रिस्पेक्ट बचाये रखना चाहता हूँ। जिस तरह आप छोटे घाव का इलाज नहीं कराते तो वह एक नासूर बन जाता है उसी तरह यह स्थिति मेरे लिए नासूर बनती जा रही है। मैं बता दूँ कि मेरी इसमें कोई भागीदारी नहीं है इसलिए मैं इस पर कुछ कहना नहीं चाहता हूँ। उन्होंने कहा कि मुझे इस घटिया प्रकरण में जबरन घसीटा गया है। जबकि मैं इस लेडी से कभी पर्सनल नहीं मिला।

-उन्होंने लिखा कि मैं इंसान हूं और खुद को इससे भी ज्यादा गंभीर, संवेदनशील और हानिकारक प्रॉब्लम से बचाना चाहता हूं। सदियों से औरतों ने पुरुषों के हाथों अत्याचार झेला है। जिसके मैं खिलाफ हूँ और सोचता हूँ कि कैसे कोई इतना क्रूर हो सकता है। लेकिन इस लॉजिक से यदि कोई मर्द सही और कोई औरत झूठी नहीं हो सकती, तो इस बात से भी मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता।

-अपने इस खुले खत में रितिक ने लिखा कि तक़रीबन सात साल का लंबा अंतराल, तथाकथित अफेयर, दो हाई-प्रोफाइल सेलेब्रिटीज। लेकिन हैरानी की बात कि जिसका कोई सबूत नहीं है। कोई तस्वीर नहीं, कोई गवाह नहीं, एंगेजमेंट, (जिसके बारे में कहा जा रहा है कि पेरिस में जनवरी 2014 में हुई थी) में ली गई कि कोई सेल्फी तक नहीं। एक लड़की पर बिलीव किया जा रहा है कि कोई औरत झूठ कैसे बोल सकती है। आगे उन्होंने लिखा कि मेरा पासपोर्ट बताता है कि मैंने जनवरी 2014 में देश से बाहर ट्रैवल नहीं किया। फिर पेरिस में मेरी सगाई कैसे हो गई। जहाँ तक सबूत की बात है एक फोटोशॉप्ड तस्वीर पेश की गई। जिसे अगले ही दिन मेरे फ्रैंड और मेरी एक्स वाइफ ने झूठा करार दे दिया था।

-सभी की तरह मुझे भी अपने पेरेंट्स ने सिखाया कि हमें औरतों की रक्षा करनी चाहिए। मेरी जिंदगी की सबसे खूबरसूरत महिला ने भी मुझे यही सिखाया है और मैं भी अपने बच्चों को भी यही सिखाने की कोशिश करूंगा। लेकिन साथ ही औरतों के लिए स्टैंड लेने की शिक्षा भी मैं उन्हें हमेशा दूंगा।

-उन्होंने एक बार फिर अपने 3000 एकतरफा ई-मेल्स का जिक्र किया। उन्होंने लिखा इन इमेल्स को या तो मैंने खुद को भेजा होगा या फिर उस लेडी ने। जल्द ही इसे साइबर क्राइम डिपार्टमेंट सत्य या असत्य साबित कर सकती है।

-इस विवाद की वजह से मुझे करीब 4 साल प्रताड़ना झेलनी पड़ी है। मैं इससे गुस्सा नहीं हूं। असल मैं जिदंगी में बहुत कम ही गुस्सा हुआ हूं लेकिन अब लेकिन समय आ गया है कि मैं सत्य की रक्षा करूं। क्योंकि जब सत्य पर आंच आती है, तो समाज, परिवार, बच्चे सबको भुगतना पड़ता है।

कोहली की अनुष्का का फैशन कि दुनिया में ‘विराट’ काम, लांच कर दिया खुद का ‘नुश’ ब्रांड

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *