कुमुदनी के फूलों की दीवानी वो राजकुमारी…सुन्दर, सुशील और अनोखी

‘वोग’ ने साठ के दशक में गायत्रीदेवी और फिल्म अभिनेत्री लीला नायडू को दुनिया की सबसे खूबसूरत दस महिलाओं में शामिल किया था। इसे विधि का विधान ही कहेंगे कि दोनों महिलाएँ मात्र एक दिन के अंतराल से इस दुनिया से कूच कर गईं।

महारानी गायत्रीदेवी का जन्म 23 मई 1919 को प्रातः आठ बजे लंदन में हुआ था। पुरोहितों ने इनका नाम गायत्री रखा, पर उनकी माँ गर्भावस्था के अंतिम दिनों में राइडर हैगर्ड का उपन्यास “शी” पढ़ रही थीं। वे इसकी नायिका आयशा से बहुत प्रभावित हुईं, जिसके कारण उन्होंने गायत्री का नाम आयशा रखना तय किया। परिवार के लोग उन्हें इसी नाम से पुकारते थे।

Prev1 of 6Next Page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *